जानिए लाल मूंगा और मोती रत्न‍ एकसाथ पहनने से फायदा होता है या नुकसान

janiye-monnga-aur-moi-ke-fayde

जैविक रत्‍न

नवरत्‍नों में से सिर्फ मोती और लाल मूंगा ही जैविक रत्‍न हैं। ये दो रत्‍न अपने स्‍वामी ग्रह के शुभ प्रभाव को बढ़ाने में बेहद लाभकारी रहते हैं। लाल मूंगा की प्रकृति गर्म होती और मोती रत्‍न ठंडी प्रकृति का रत्‍न है।

(4 Ratti) मूंगा रत्न आर्डर करने के लिए >> क्लिक करे >>

मंगल और मूंगा

मंगल ग्रह साहस प्रदान करता है एवं इस ग्रह से प्रभावित जातक अपने प्रयासों के प्रति सदा गतिशील रहता है। मंगल बल, साहस, निर्णय लेने की क्षमता और दृढ़ विश्‍वास का प्रतीक है। लाल मूंगा का स्‍वमी मंगल ग्रह है। ये रत्‍न मंगल के शुभ प्रभाव को बढ़ाकर धारणकर्ता को मंगल से संबंधित शुभ प्रभाव देने में सहायता करता है।

मूंगा से लाभ

Moonga Stone

उच्‍च क्‍वालिटी का लाल मूंगा रत्‍न धारण करने से आत्‍मविश्‍वास और मान-सम्‍मान में बढ़ोत्तरी होती है। मंगल का मूंगा रत्‍न इसे धारण करने वाले व्‍यक्‍ति को साहसी और निर्भयी बनाता है। यह रत्‍न व्‍यक्‍ति को जीवंत और उत्‍साह से परिपूर्ण रखने में मदद करता है। कई आयुर्वेदिक दचाओं में भी लाल मूंगा का प्रयोग किया जाता है।

(8 Ratti) मूंगा रत्न आर्डर करने के लिए >> क्लिक करे >>

चंद्रमा और मोती

चंद्रमा ग्रह शांत, करुणामय, उदार और सुख का प्रतीक है। चंद्रमा जीवन में रचनात्‍मकता, मानसिक संतुलन और प्रजनन क्षमता को दर्शाता है। कुंडली में चंद्रमा के उच्‍च स्‍थान में होने पर वह व्‍यक्‍ति मानसिक और भावनात्‍मक रूप से स्‍वस्‍थ और दृढ़ रहता है। चंद्रमा का रत्‍न है मोती। मोती रत्‍न धारण करने से व्‍यक्‍ति को चंद्रमा के शुभ प्रभाव मिलते हैं।

मोती के लाभ

moti-ratna

चंद्रमा का रत्‍न मोती धारण करने से व्‍यक्‍ति को ऐश्‍वर्य, आकर्षण और मानसिक संतुलन की प्राप्‍ति होती है। मोती रत्‍न को धारण करने वाला व्‍यक्‍ति भावनात्‍मक रूप से मज़बूत बनता है। मोती रत्‍न का सबसे बढिया लाभ है कि इस रत्‍न को धारण करने से प्रजनन क्षमता यानि फर्टिलिटी बढ़ती है।

(8 Ratti) मोती रत्न आर्डर करने के लिए >> क्लिक करे >>

मूंगा और मोती का मेल

मंगल और चंद्रमा के बीच मैत्री संबंध होने के कारण मोती और मूंगा रत्‍न को एकसाथ धारण किया जा सकता है। इसलिए आप मंगल का रत्‍न मूंगा और चंद्रमा का रत्‍न मोती एकसाथ धारण कर सकते हैं। एकसाथ पहने जाने पर ये दोनों रत्‍न आपको किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगें।

लाभ

मोती और मूंगा रत्‍न एकसाथ धारण करने से व्‍यक्‍ति को उत्तम स्‍वास्‍थ्‍य, सुख और शांति की प्राप्‍ति होती है। इसलिए आप बिना किसी झिझक के मोती और मूंगा रत्‍न को एकसाथ धारण कर सकते हैं। यकीन मानिए ये दोनों रत्‍न आपको किसी भी तरह का कोई भी नुकसान नहीं पहुंचाएंगें।

(6 Ratti) मोती रत्न आर्डर करने के लिए >> क्लिक करे >>

ध्‍यान रहे

kisi-jyotisha-charya

किसी अच्‍छे और अनुभवी ज्‍योतिषाचार्य से अपनी कुंडली का विश्‍लेषण करवाने के बाद ही मोती और मूंगा रत्‍न एकसाथ धारण करें। कुंडली में ग्रहों की स्थिति के आंकलन के बाद ही ज्‍योतिषाचार्य आपको कोई भी रत्‍न धारण करने की सलाह देते हैं।

कैसे करें धारण

आप मोती और मूंगा रत्‍न को चांदी की अंगूठी या लॉकेट या पंचधातु में भी धारण कर सकते हैं। आप उच्‍च क्‍वालिटी और सर्टिफाइड रत्‍न Gemsvidhi.com से भी प्राप्‍त कर सकते हैं।

(5 Ratti) मोती रत्न आर्डर करने के लिए >> क्लिक करे >>

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here